चारधाम यात्रा पर बढ़ती संख्या को देखते हुए व्यवस्थाओं को और अधिक दुरुस्त किया जायेगा

0

चारधाम यात्रियों के पंजीकरण का आंकडा 48 लाख से ऊपर पहुंचा: महाराज

देहरादून। चारधाम यात्रा के दौरान आस्था से खिलवाड़ करने वाले किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा। केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह को स्वर्ण मण्डित करने के विषय में अफवा फैलाने का मामला हो, मंदिर के गर्भगृह में महिला द्वारा स्वयंभू शिवलिंग पर नोट बरसाने का कृत्य हो या फिर खच्चरों के साथ मानवीय व्यवहार के तहत खच्चर को सिगरेट पिलाने का जघन्य मामला हो, दोषी पाये जाने पर सभी को
दण्डित किया जायेगा।

प्रदेश के पर्यटन धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा है कि चारधाम यात्रा के दौरान आस्था से खिलवाड़ करने वाले किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा। केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह को स्वर्ण मण्डित करने के विषय में अफवा फैलाने का मामला हो, मंदिर के गर्भगृह में महिला द्वारा स्वयंभू शिवलिंग पर नोट बरसाने का कृत्य हो या फिर खच्चरों के साथ मानवीय व्यवहार के तहत खच्चर को सिगरेट पिलाने का जघन्य मामला हो, दोषी पाये जाने पर सभी को दण्डित किया जायेगा। श्री महाराज की ओर से उनके मीडिया सलाहकार निशीथ सकलानी द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर कुछ लोग चारधाम यात्रा को लेकर अनावश्यक अफवाह फैलाने का काम कर रहे हैं साथ विपक्ष भी उन अफवाहों को हवा देने का काम कर रहा है।

श्री महाराज ने कहा कि इस समय चारधाम यात्रा निर्बाध गति से चल रही है जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु तीर्थ स्थलों के दर्शनों को उत्तराखंड आ रहे हैं, ऐसे में अनावश्यक मामलों को तूल देकर जो भी यात्रा को बाधित करने का प्रयास करेगा उसके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होने उत्तराखंड आने वाले श्रद्धालु से भी अनुरोध किया है कि वह श्रद्धा भाव से यात्रा नियमों का पालन करते हुए सहयोग करें।

पर्यटन मंत्री श्री महाराज ने केदारनाथ रूट पर स्थित विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को हेली सेवा के दौरान उसके शोर-शराबे से पढाई में हो रही परेशानी को देखते हुए सभी स्कूल भवनों को साउंडप्रूफ करने के जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं।

पर्यटन एवं धर्मस्व मंत्री श्री महाराज ने कहा कि चारधाम यात्रा पर आने वाले यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्पष्ट है कि चारधाम यात्रा इस बार पिछले सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर देगी। उन्होने कहा कि 18 फरवरी 2023 से प्रारम्भ हुये चारधाम एवं हेमकुण्ड यात्रियों के पंजीकरण के तहत अभी तक 48,79,698 (अड़तालीस लाख उनासी हजार छह सौ अट्ठानवे) यात्री अपना पंजीकरण करवा चुके हैं। विभिन्न धामों में यात्रियों के पंजीकरण की यदि हम बात करें तो अभी तक केदारनाथ हेतु 1589893 (पंद्रह लाख नवासी हजार आठ सौ तिरानवे), बद्रीनाथ हेतु 1470290 (चौदह लाख सत्तर हजार दो सौ नब्बे), गंगोत्री हेतु 858275 (आठ लाख अट्ठावन हजार दो सौ पिचहत्तर), यमुनोत्री हेतु 793246 (सात लाख तिरानवे हजार दो सौ छियालीस) एवं हेमकुण्ड हेतु 167994 (एक लाख नवासी हजार नौ सौ चौरानवे) यात्री अपना पंजीकरण करवा चुके हैं। जबकि कपाट खुलने से लेकर अभी तक चारधाम में 3094819 (तीस लाख चौरानवे हजार आठ सौ उन्नीस) यात्री दर्शनों का लाभ उठा चुके हैं।

श्री महाराज ने बताया कि 16 फरवरी 2023 से शुरू हुई जीएमवीएन गेस्ट हॉउसों की बुकिंग के तहत अभी तक कुल 200839674.00 (बीस करोड़ आठ लाख उनतालीस हजार छह सौ चौहत्तर) रुपये से अधिक की बुकिंग भी की जा चुकी है। यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए यह आंकड़ा आगे और बढेगा।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *